Friday, September 25, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोरोना वायरस से निधन, राष्ट्रपति कोविंद-पीएम मोदी ने जताया शोक.... 2) Sanju Samson की आतिशी पारी देखकर गौतम गंभीर ने किया Tweet, बोले- भारतीय क्रिकेट का सबसे बेहतरीन....... 3) विपक्ष के बहिष्कार के बीच राज्यसभा में 3 लेबर कोड बिल पारित, अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया गया सदन.... 4) चोरी-छुपे लालू यादव से मिलने गए मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता, राजद सुप्रीमाे के चिकित्‍सक ने अपनी गाड़ी से पहुंचाया.... 5) LAC पर बदल चुके हैं रूल्स ऑफ इंगेजमेंट, ITBP के जवानों को पूर्वी लद्दाख में दी जा रही है फायरिंग की ट्रैनिंग.... 6) राजस्थान रॉयल्स को मैच से पहले लगा बड़ा झटका, दिग्गज खिलाड़ी हुआ बाहर.... 7) Dolly बनकर भूमि चलीं आयुष्मान खुराना की राह, अगली फिल्म में करेंगी Gandi Baat....
ज़िन्दगी को तपा लिया मैंने / ग़ज़ल 
Thursday, September 12, 2019 - 1:44:54 PM - By अज्ञात 

ज़िन्दगी को तपा लिया मैंने / ग़ज़ल 
कौन नहीं है, किसकी कमी है, दिल क्यों हैराँ आज भी है......
ज़िन्दगी को तपा लिया मैंने.....

ज़िन्दगी को तपा लिया मैंने, उसका कुन्दन बना लिया मैंने |
आँधियाँ जिसको रोशनी देंगी उस शमा को जला लिया मैंने ||

घटाओं उट्ठो बिजलियाँ लेकर, लो नशेमन बना लिया मैंने |
ग़म तो मरहम है दिल के ज़ख्मों पर, दर्द को दिल बना लिया मैंने……

हसीं ये महफ़िल जाम भरा है, मस्त वो नगमा आज भी है |
दिल का नशेमन ना जाने क्यों तिनका तिनका आज भी है ||

कौन नहीं है, किसकी कमी है, दिल क्यों हैराँ आज भी है |
जाने क्या हम खो बैठे जो चाक गिरेबाँ आज भी है ||

घुँघरू तेरे झनकारें तो दिल में होती हलचल सी |
पर इनमें ना जाने किसका ग़म ये नुमायाँ आज भी है ||

दिल में बसी हैं कितनी यादें, कितनी मुरादें जी में हैं |
पगला ये दिल ना जाने क्यों तनहा तनहा आज भी है ||

हम आए हैं लेकर अपनी तनहाई इन हाथों में |
सनम दिखा दे तेरी महफ़िल जवाँ जवाँ क्या आज भी है ??

साक़ी आज पिला दे इतनी, बेहोशी में खो जाएँ |
वरना तेरी महफ़िल में दिल वीराँ वीराँ आज भी है ||