Wednesday, February 26, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) बीमार पिता से नकार पाकिस्तान का करती जय जयकार.... 2) असम संस्कृति की रक्षा करना सरकार का दायित्व.... 3) गरवारे शिक्षण संस्थान में मनाया गया वसंतोत्सव.... 4) आम नागरिक की मांग निजीकरण करो सरकार .... 5) मनसे के आंदोलन से घबराकर उद्धव ठाकरे ने बुलाई बैठक.... 6) 'मीडिया में विज्ञापन की भूमिका' पर संचार-संवाद का आयोजन.... 7) राष्ट्रीय स्तर पर NRC लाने का अभी तक नहीं हुआ कोई निर्णय - नित्यानंद राय ....
नाबालिग लड़कियों को ब्लेड से डराकर बलात्कार करने वाला सीरियल रेपिस्ट गिरफ्तार
Wednesday, August 31, 2016 9:41:26 AM - By एजेंसी

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
वसई में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को पकड़ा है, जिस पर फिलहाल दो नाबालिगों के साथ बलात्कार का मामला दर्ज हुआ है, लेकिन सूत्रों के मुताबिक आरोपी सीरियल रेपिस्ट है जो ब्लेड के जरिए पीड़ितों को डरा धमकाकर उनका शारीरिक शोषण करता था.

मामला 7 अगस्त का है, जब आरोपी की तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में कैद हुईं. मुंबई से सटे वसई पश्चिम में तेज चाल से चलता यह शख्स पहले कैमरे की जद से बाहर गया. उसने 14 साल की एक बच्ची को पर्ची दिखाकर पता पूछा. फिर कैमरे ने उसकी तस्वीरें कैद कीं जिसमें बच्ची उसे पर्ची पर लिखा पता बता रही है.

पुलिस के मुताबिक आरोपी पीड़ित को फ्लैट दिखाने के बहाने अंदर ले गया. ब्लेड दिखाकर उसे डरा धमकाकर उसके साथ रेप किया. वसई से एडीशनल एसपी योगेश कुमार के मुताबिक "सात अगस्त को मामला आया था, फरियादी माइनर है. लड़के ने एड्रेस की स्लिप दिखाकर पता पूछा ब्लेड निकाला, उसका डर दिखाकर शारीरिक शोषण किया, उसका मोबाइल भी लेकर गया. आरोपी फरार था. उसे पकड़ने की हमारी कोशिश जारी थी 28 अगस्त को ट्रैप लगाया उसी हुलिए से मिलता-जुलता एक शख्स हमारी टीम को दिखा. फिर ट्रैप लगाकर हमने उसे अरेस्ट किया."

पुलिस का कहना है कि आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया है, लेकिन वह उससे पूछताछ कर यह जानने की कोशिश में जुटी है कि उसने और ऐसी कितनी वारदातों को अंजाम दिया है. एडीशनल एसपी का कहना है " हमारे पास एक और मामला सामने आया है, जिसमें आरोपी वही है. दूसरे पीड़ित के साथ ब्लेड दिखाकर शारीरिक शोषण किया है."


पोस्को एक्ट लागू होने से अब तक महाराष्ट्र में बच्चों के यौन शोषण के मामले छह गुने बढ़े हैं. लेकिन 11000 से ज्यादा मामले अदालतों में लंबित हैं. इस मामले में भी फिलहाल आरोपी को अदालत ने पुलिस हिरासत में भेज दिया है. उसके जुबान खोलने पर ही पता लगेगा कि कितने बच्चों को उसने अपना शिकार बनाया है.