Monday, October 26, 2020

न्यूज़ अलर्ट
1) एलजेपी नेता व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन.... 2) पैसे देकर टीआरपी खरीदने का काम कर रहा था रिपब्लिक टीवी, दो गिरफ्तार.... 3) आज इतिहास रच सकते हैं विराट कोहली, बन जाएंगे सबसे बड़े T-20 बल्लेबाज!.... 4) कुवैत लेकर आ रहा नया कानून, आठ लाख से ज्यादा भारतीयों के वीजा पर संकट.... 5) 15 अक्तूबर से क्रमबद्ध तरीके से खुलेंगे स्कूल, शुरूआती दौर में नहीं होगा छात्रों का मूल्यांकन.... 6) दिन-ब-दिन गिरती जा रही संजय दत्त की सेहत, कैंसर के इलाज के बीच सामने आई नई फोटोज.... 7) हाथरस मामले को सुलगाने के लिए बनी वेबसाइट! अब FIR दर्ज....
कोरोना वैक्सीन पर खुशखबरी, 98 फीसदी लोगों पर असरदार साबित हुआ यह टीका
Saturday, September 26, 2020 9:22:31 PM - By न्यूज डेस्क

सांकेतिक चित्र
दुनियाभर में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। पूरी दुनिया को इसकी वैक्सीन का इंतजार है। रूस और चीन द्वारा वैक्सीन बना लेने के दावे के बाद भारत, ब्रिटेन, अमेरिका समेत कई देश वैक्सीन पर कामयाबी के नजदीक हैं। रूसी मीडिया के दावों पर विश्वास करें तो, रूसी वैक्सीन Sputnik V 'सिविल सर्कुलेशन' में आ गई है। यह वैक्सीन फिलहाज तीसरे चरण के ट्रायल से गुजर रही है। चूंकि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर विशेषज्ञ पूरी तरह संतुष्ट नहीं हैं, इसीलिए इस वैक्सीन में दुनिया की बहुत ज्यादा दिलचस्पी नहीं है। इस बीच अमेरिका से कोरोना वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर सामने आई है।
खबरों के मुताबिक, अमेरिका में चल रही कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। ह्यूमन ट्रायल के दौरान कोरोना वायरस के खिलाफ अमेरिकी वैक्सीन काफी असरदार दिखी है। हेल्थ वेबसाइट medRxiv की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन(Johnson and Johnson) द्वारा विकसित की गई वैक्सीन के शुरुआती परीक्षणों में उत्साहित परिणाम सामने आए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, वैक्सीन के सिंगल डोज ने कोरोना वायरस के खिलाफ मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया(Strong immune Response) दिखाया है।
मालूम हो कि दो दिन पूर्व व्हाइट हाउस में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने लोगों से वैक्सीन के ट्रायल में भाग लेने की अपील की है। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन की घोषणा के मुताबिक वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल के अंतिम चरण में है। यह अमेरिका मे ऐसी चौथी वैक्सीन है, जो अंतिम चरण के ट्रायल में है।